नेत्र फ्लू वायरस रोग: कारण, लक्षण, उपचार और रोकथाम Disease caused by the eye flu virus: causes, symptoms, care, and prevention

0
447

आई फ्लू, जिसे नेत्रश्लेष्मलाशोथ के रूप में भी जाना जाता है, विभिन्न प्रकार के वायरस, बैक्टीरिया या एलर्जी के कारण होने वाला एक आम और अत्यधिक संक्रामक नेत्र संक्रमण है। यह स्थिति सभी उम्र के लोगों को प्रभावित करती है और असुविधा और अस्थायी दृष्टि संबंधी गड़बड़ी पैदा कर सकती है। इस ब्लॉग में, हम आई फ्लू के कारणों, लक्षणों, उपचार के विकल्पों और निवारक उपायों सहित इसके विवरण के बारे में विस्तार से जानेंगे।

Conjunctivitis, or “eye flu,” is a typical and extremely contagious eye infection brought on by a number of viruses, bacteria, or allergies. All ages are affected by this illness, which can cause discomfort and brief vision impairments. The specifics of eye flu, including its causes, symptoms, available treatments, and preventative measures, will be covered in this blog.

आई फ्लू के कारण: (Causes of Eye Flu)

आई फ्लू विभिन्न कारकों के कारण हो सकता है, जिनमें शामिल हैं:(Eye flu can be brought on by a number of things, such as)

1.वायरल संक्रमण(the viral infections)

आई फ्लू का सबसे आम रूप वायरल नेत्रश्लेष्मलाशोथ है, जो अक्सर एडेनोवायरस द्वारा लाया जाता है, वही वायरस जो आमतौर पर सामान्य सर्दी का कारण बनते हैं।

(The most frequent form of eye flu is viral conjunctivitis, which is frequently brought on by adenoviruses, the same viruses that also commonly cause the common cold.)

2.जीवाणुजन्य बीमारियाँ (bacterial illnesses)

स्टैफिलोकोकस ऑरियस, स्ट्रेप्टोकोकस न्यूमोनिया, या हेमोफिलस इन्फ्लुएंजा बैक्टीरियल नेत्रश्लेष्मलाशोथ का कारण बनने वाले सबसे आम बैक्टीरिया हैं।

(Staphylococcus aureus, Streptococcus pneumoniae, or Haemophilus influenzae are the most common bacteria to cause bacterial conjunctivitis.)

3.एलर्जी(Allergens)

पराग, बिल्ली के बालों, धूल के कण, या कुछ आंखों की बूंदों सहित एलर्जी एलर्जी नेत्रश्लेष्मलाशोथ का कारण बन सकती है।

(Allergens including pollen, cat dander, dust mites, or certain eye drops can cause allergic conjunctivitis.)

4.जलन(Irritants)

आई फ्लू के लक्षण स्विमिंग पूल में क्लोरीन, रसायन या धूम्रपान जैसी जलन के कारण भी हो सकते हैं।

(Eye flu symptoms can also be brought on by irritations such as chlorine in swimming pools, chemicals, or smoking.)

आई फ्लू के लक्षण:(Symptoms of Eye Flu)

अंतर्निहित कारण के आधार पर, ओकुलर फ्लू के लक्षण और लक्षण भिन्न हो सकते हैं, लेकिन कुछ विशिष्ट लक्षणों में शामिल हैं:

(Depending on the underlying cause, the signs and symptoms of ocular flu might vary, but some typical symptoms include:)

1.लालपन(Redness)

नेत्रश्लेष्मला सूजन के कारण, आंख का सफेद भाग, या श्वेतपटल, गुलाबी या लाल दिखाई देता है।

Due to conjunctival inflammation, the white component of the eye, or sclera, appears pink or red.

2.खुजली(Itching)

जब आँखों में खुजली और जलन हो तो उन्हें बार-बार रगड़ा जाता है।

When eyes are scratchy and irritating, they are frequently rubbed.

3.पानी जैसा स्राव(Watery Discharge)

विशेष रूप से वायरल या एलर्जिक नेत्रश्लेष्मलाशोथ के मामलों में, आंखों से स्पष्ट या सफेद स्राव हो सकता है।

Especially in cases of viral or allergic conjunctivitis, there may be a clear or white discharge from the eyes.

4.दर्द और संवेदनशीलता(Pain and Sensitivity)

तेज रोशनी के संपर्क में आने पर, आंखों में दर्द, प्रकाश के प्रति संवेदनशील (फोटोफोबिया) या बेचैनी महसूस हो सकती है।

When exposed to strong lights, the eyes may feel painful, sensitive to light (photophobia), or uneasy.

5.

5.धुंधली दृष्टि(Blurred Vision)

गंभीर सूजन के मामलों में, दृष्टि कुछ समय के लिए प्रभावित हो सकती है।

In cases of severe inflammation, vision may be briefly compromised.

उपचार के विकल्प (Options for treatment)

आई फ्लू के इलाज के लिए इस्तेमाल की जाने वाली विधि इस बात पर निर्भर करती है कि संक्रमण किस कारण से हुआ

The method used to treat eye flu is dependent on what caused the infection

1.नेत्रश्लेष्मलाशोथ(Viral Conjunctivitis)

वायरल आई फ्लू आमतौर पर एक या दो सप्ताह के बाद अपने आप ठीक हो जाता है और स्व-सीमित होता है। कृत्रिम आंसू और गर्म सेक लगाना दोनों ही असुविधा को कम कर सकते हैं।

Viral eye flu normally resolves on its own after a week or two and is self-limiting. Artificial tears and the application of warm compresses can both ease discomfort.

2.बैक्टीरियल नेत्रश्लेष्मलाशोथ (Bacterial Conjunctivitis)

बैक्टीरियल नेत्रश्लेष्मलाशोथ के उपचार के लिए एंटीबायोटिक आई ड्रॉप या मलहम की सिफारिश की जाती है। डॉक्टर के निर्देशानुसार, पूरी अनुशंसित अवधि तक एंटीबायोटिक्स लें।

Antibiotic eye drops or ointments are recommended for the treatment of bacterial conjunctivitis. As directed by the doctor, take the antibiotics for the full recommended duration.

3.एलर्जिक नेत्रश्लेष्मलाशोथ(Allergic Conjunctivitis)

एलर्जी से बचने और एंटीहिस्टामाइन आई ड्रॉप का उपयोग करने से एलर्जी नेत्रश्लेष्मलाशोथ के लक्षणों को प्रबंधित करने में मदद मिल सकती है। गंभीर मामलों में डॉक्टर स्टेरॉयड आई ड्रॉप की सिफारिश कर सकते हैं।

4. जलन पैदा करने वाले पदार्थ से नेत्रश्लेष्मलाशोथ(Conjunctivitis from an irritant)

यदि जलन जलन पैदा करने वाले पदार्थ के संपर्क में आने से होती है, तो आंखों को साफ पानी से धोएं और अधिक संपर्क से दूर रहें।

If the irritation is brought on by exposure to irritants, properly rinse the eyes with clean water and steer clear of more contact.

निवारक उपाय(Preventive Measures)

आई फ्लू के प्रसार से खुद को और दूसरों को सुरक्षित रखने के लिए रोकथाम महत्वपूर्ण है।

Prevention is key to safeguarding both yourself and others from the spread of eye flu.

1.अच्छी स्वच्छता का अभ्यास करें(Practice Good Hygiene)

अच्छी स्वच्छता बनाए रखने के लिए अपने हाथों को बार-बार साबुन और पानी से धोएं, खासकर अपनी आंखों को छूने या संक्रमित लोगों के संपर्क में आने के बाद।

Wash your hands frequently with soap and water to maintain good hygiene, especially after touching your eyes or coming into contact with infected people.

2.अपनी आँखों को रगड़ने या छूने से बचें (Refrain from Rubbing or Touching Your Eyes)

अपनी आँखों को रगड़ने या छूने से बचें क्योंकि इससे संक्रमण का खतरा बढ़ सकता है।

Avoid rubbing or touching your eyes as this can raise the risk of infection.

3.व्यक्तिगत सामान का अलग से उपयोग करें(Use Personal Items Separately)

जब आई फ्लू का प्रकोप हो, तो तौलिये, तकिए या आंखों के मेकअप जैसे व्यक्तिगत सामान को साझा करने से दूर रहें।

When there is an eye flu outbreak, stay away from sharing personal goods like towels, pillows, or eye makeup

4.घर पर रहें(Stay at Home)

यदि आपको आई फ्लू है, तो वायरस को फैलने से रोकने के लिए लक्षण दूर होने तक स्कूल, कार्यस्थल या सार्वजनिक क्षेत्रों में जाने से बचें।

If you have eye flu, avoid going to school, work, or public areas until your symptoms go away to stop the virus from spreading.

5. उचित संपर्क लेंस स्वच्छता का पालन करें(Follow Proper Contact Lens Hygiene)

संक्रमण के जोखिम को कम करने के लिए, यदि आप संपर्क लेंस पहनते हैं, तो अपने नेत्र देखभाल विशेषज्ञ द्वारा सलाह दी गई स्वच्छता निर्देशों का पालन करें।

To lower the risk of infection, if you wear contact lenses, follow the hygiene instructions advised by your eye care specialist.

कंजंक्टिवाइटिस, जिसे “आई फ्लू” भी कहा जाता है, कई कारणों से होने वाली एक आम आंख की बीमारी है। भले ही यह असुविधाजनक हो सकता है और अस्थायी रूप से दृष्टि को ख़राब कर सकता है, अधिकांश मामलों में सही देखभाल और दवा से इलाज संभव है। हम अपने हाथों को साफ रखकर और निवारक कदमों को लागू करके आई फ्लू होने की संभावना को कम कर सकते हैं और अपने और अपने आस-पास के लोगों के लिए बेहतर नेत्र स्वास्थ्य को प्रोत्साहित कर सकते हैं। यदि आपमें आई फ्लू के गंभीर या लगातार लक्षण हैं तो उचित निदान और उपचार के लिए किसी नेत्र देखभाल विशेषज्ञ से परामर्श लें।

Conjunctivitis, also known as “eye flu,” is a common eye illness with a number of causes. Even though it can be uncomfortable and temporarily impair vision, the majority of instances are treatable with the right care and medication. We may lessen the chance of getting eye flu and encourage improved eye health for both ourselves and those around us by keeping our hands clean and implementing preventive steps. Consult an eye care specialist for an appropriate diagnosis and course of treatment if you have severe or persistent symptoms of the eye flu.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here